Sunidhi Chauhan

सुनिधि चौहान को स्वतंत्र संगीत और फिल्मी संगीत अलग अलग देखना पसंद नहीं

गायिका सुनिधि चौहान ने कई बॉलीवुड हिट के साथ अपना ब्रांड स्थापित किया, और उन्हें लगता है कि लोगों को बॉलीवुड संगीत और स्वतंत्र संगीत में संगीत को विभाजित करने की आवश्यकता नहीं है। 2001 में रिलीज हुए पहले सोलो सॉन्ग ‘पहला नशा’ के 20 साल बाद एक बार फिर सुनिधी सोलो सॉन्ग ‘ये रंजिशे’ के  साथ स्वतंत्र संगीत यानी सोलो सॉन्ग की दुनिया में कम बैक कर रही हैं। यह पूछे जाने पर कि क्या स्वतंत्रता संगीत की रिलीज में अचानक उछाल कम बॉलीवुड फिल्मों की रिलीज का परिणाम है, सुनिधि का परिस्थितियों को देखने का अलग तरीका है। 

उन्होंने आईएएनएस को बताया कि ‘‘हम संगीत का सीमांकन क्यों कर रहे हैं? संगीत अभी भी आ रहा है। फिल्म संगीत शायद नहीं आ रहा है लेकिन अभी भी हर जगह संगीत है।’’ सुनिधी ने जवाब देते हुए कहा, ‘‘कोविड के मामले कम होने के बाद फिल्म व्यवसाय फिर से शुरू होगा, और फिल्में नियमित रूप से रिलीज होने लगेंगी। क्या यह स्वतंत्र संगीतकारों के लिए खतरा होगा?’’ 

‘‘जब व्यवसाय वापस आ जाएगा और फिल्म संगीत वापस आ जाएगा, तो इसका एकल रिलीज के साथ कोई संबंध नहीं होगा। जब फिल्में नियमित रूप से रिलीज हो रही थीं और कोई लॉकडाउन नहीं था, तब भी सोलो सॉन्ग थे। ट्रैक काम कर रहे थे’’ सुनिधि याद दिलाती हैं कि ‘हाई हील्स’, ‘मैं तेरा बॉयफ्रेंड’ और ‘सटरडे सटरडे’ सहित कई एकल ट्रैक बॉलीवुड फिल्मों में शामिल किए गए हैं। उन्होंने कहा, कि ‘‘एक चरण था कि कुछ गैर-फिल्मी ट्रैक ने इतना अच्छा किया कि फिल्मों ने इन्हें लिया, और यह एक प्रवृत्ति बन गई। एक गैर-फिल्म ट्रैक स्थितिजन्य नहीं है और यह दिल से आता है, और इसे एक फिल्म में इस्तेमाल किया जा सकता है लेकिन एक फिल्म में ट्रैक को स्वतंत्र रूप से जारी नहीं किया जा सकता है। हमें अपनी मानसिकता को बदलने की जरूरत है। संगीत संगीत है।’’



Live TV

-->

Loading ...