Mahashivratri

Mahashivratri: इस कारण आज काशी विश्वनाथ के गर्भगृह में नहीं मिलेगा प्रवेश

शिव भक्तों को इस साल 11 मार्च को शिवरात्रि के मौके पर काशी विश्वनाथ मंदिर के गर्भगृह में प्रवेश करने की अनुमति नहीं मिलेगी। संभागायुक्त दीपक अग्रवाल ने कहा है, "मंदिर के प्रवेश द्वार पर भारी भीड़ होने की संभावना को देखते हुए, भक्तों को इस साल स्पर्श दर्शन के लिए गर्भगृह में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। हालांकि वे गर्भगृह के चारों दरवाजों से दर्शन और प्रार्थना कर सकेंगे। यह निर्णय महामारी के कारण बनाए गए सुरक्षा प्रोटोकाल के तहत लिया गया है।"

काशी विश्वनाथ धाम गलियारे के अंदर चल रहे निर्माण के कारण वैसे भी  शिव बारात  के दौरान भीड़ को काबू करना जिला प्रशासन के लिए एक बड़ी चुनौती होगी।

संभागायुक्त ने कहा कि भक्तों को 3 अलग-अलग जगहों से प्रवेश देने के इंतजाम किए गए हैं। इसके अलावा कतार में अपनी बारी का इंतजार कर रहे लोग एलईडी स्क्र ीन पर  गर्भगृह  के अंदर किए जा रहे अनुष्ठानों का सीधा प्रसारण देख सकेंगे। 3 दिन के महा शिवरात्रि महोत्सव के दौरान बॉलीवुड गायक कैलाश खेर समेत कई कलाकार प्रस्तुतियां देंगे।

अग्रवाल ने कहा, "उद्घाटन के दिन स्थानीय कलाकार अपनी कला का प्रदर्शन करेंगे, वहीं 12 मार्च को  कवि सम्मेलन  होगा। उत्सव के आखिरी दिन कैलाश खेर का प्रदर्शन मुख्य आकर्षण होगा।" 3 दिन का यह उत्सव महा शिवरात्रि की पूर्व संध्या पर राजघाट पर गंगा किनारे से शुरू होगा।



Live TV

Breaking News


Loading ...