Nehru Ji को Congress में कोई PM नहीं बनाना चाहता था : Union Minister RCP Singh

Spread the News

केंद्रीय मंत्री और जनता दल युनाइटेड के नेता आरसीपी सिंह आज आरएसएस की थिंक टैंक संस्था रामभाऊ म्हालगिनी प्रबोधिनी की ओर से ‘परिवारवाद और उसके राजनीतिक परिणाम’ शीर्षक पर आयोजित एक समारोह में बोल रहे थे. सिंह ने कहा कि नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमार इस मामले में उदाहरण हैं, जिनके लिए उनकी जनता ही उनका परिवार है. जेडीयू नेता और केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह ने आज एक ऐसा बयान दिया जिसे सुनकर बीजेपी को बहुत अच्छा लगेगा. आरसीपी सिंह ने परिवारवाद की शुरुआत के लिए भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू और उनके परिवार पर जमकर हमला बोला. जेडीयू नेता ने दावा किया कि आज़ादी के बाद कांग्रेस के भीतर कोई भी नेहरू जी को प्रधानमंत्री नहीं बनाना चाहता था. उनके मुताबिक़ कांग्रेस में संगठन और कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्य वल्लभभाई पटेल को प्रधानमंत्री बनना चाहते थे. आरसीपी सिंह ने परिवारवाद के संदर्भ में कहा कि देश की राजनीति में परिवारवाद की नींव तभी पड़ गई थी। आरसीपी सिंह ने विस्तार से बताया कि किस तरह परिवारवाद के चलते कांग्रेस के भीतर पटेल और अंबेडकर जैसे नेताओं की अवहेलना की गई. उन्होंने कहा कि 1954 में भारतरत्न की शुरुआत होने के अगले ही साल यानी 1955 में नेहरू ने भारतरत्न ले लिया जबकि पटेल को 1991 में राजीव गांधी के साथ भारतरत्न दिया गया. आरसीपी सिंह का ये बयान चौंकाने वाला है क्योंकि आज तक नीतीश कुमार और जेडीयू के अन्य नेता सीधा जवाहर लाल नेहरू पर हमला करने से बचते रहे हैं.