China

चीन में शिनच्यांग कार्य संगोष्ठी आयोजित, अहम भाषण दिया शी चिनफिंग ने

तीसरी चीनी केंद्रीय शिनच्यांग कार्य संगोष्ठी 25 से 26 सितंबर तक पेइचिंग में आयोजित हुई। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने जोर देते हुए कहा कि शासन प्रणाली और शासन शक्ति के आधुनिकीकरण को बढ़ावा देने की गारंटी के साथ नये युग में चीनी विशेषता वाला एक एकीकृत,सामंजस्यपूर्ण, समृद्ध, सभ्य,ख़ुशहाल और पारिस्थितिकीय शिनच्यांग का निर्माण करने की कोशिश करें।

शी चिनफिंग ने कहा कि शिनच्यांग उइगुर स्वायत्त प्रदेश के समाज की समग्र और दीर्घकालिक स्थिरता बनाए रखने के लिए शिनच्यांग कार्य के विभिन्न क्षेत्रों में कानूनों के अनुसार देश के व्यापक प्रशासन की आवश्यकताओं को लागू करना और समान निर्माण, समान प्रशासन और समान साझेदारी का सामाजिक शासन पैटर्न बनाना आवश्यक है।  शी चिनफिंग ने सभी जातियों की एकता को लगातार मजबूत करने और चीनी राष्ट्र के समुदाय की विचारधारा को आत्मा में ले जाने की आवश्यकता पर भी जोर दिया।

शी चिनफिंग ने विशेष रूप से गरीबी उन्मूलन और रोजगार संवर्धन के दो प्रमुख मुद्दों पर जोर देते हुए कहा कि दक्षिण शिनच्यांग के आर्थिक व सामाजिक विकास और जन-जीवन के सुधार को बढ़ावा देना चाहिए। उन कार्यकर्ताओं को सीधे रूप से पदोन्नत किया जा सकता है, जिनका प्रदर्शन असाधारण रहा है।

उन्होंने यह भी कहा कि चीनी कम्युनिस्ट पार्टी का मूल मिशन शिनच्यांग की विभिन्न जातियों के लोगों समेत चीनी लोगों के लिए खुशी की तलाश करना है और शिनच्यांग की सभी जातियों सहित चीनी राष्ट्र के लिए कायाकल्प की तलाश करना है। शिनच्यांग कार्य को बखूबी अंजाम देना पूरी पार्टी और देश के लिए एक प्रमुख मुद्दा है। चीन के भीतरी इलाके के विभिन्न प्रांतों और शहरों को ठोस रूप से शिनच्यांग की स्थिरता व विकास का समर्थन करना चाहिए।

चीनी केंद्रीय शिनच्यांग कार्य संगोष्ठी क्रमशः वर्ष 2010, 2014 में आयोजित हुई थी। शिनच्यांग के आर्थिक व सामाजिक विकास को व्यापक रूप से बढ़ाया गया। आंकड़ों के अनुसार, 2014 से 2019 तक शिनच्यांग की जीडीपी 9.19 खरब युआन से बढ़कर 13.59 खरब युआन तक पहुंची और 7.2 प्रतिशत की औसत वार्षिक वृद्धि दर्ज की गयी। निवासियों की औसत वार्षिक प्रति व्यक्ति डिस्पोजेबल आय में 9.1 प्रतिशत की वृद्धि हुई। शिनच्यांग में सभी लोगों के लिए मुफ्त स्वास्थ्य जांच लागू की गयी। वर्ष 2019 तक कुल 29.23 लाख लोग गरीबी से बाहर निकले। गरीबी दर 1.24 प्रतिशत तक घटी। गरीबों की बुनियादी चिकित्सा बीमा और गंभीर बीमारी बीमा में भागीदारी दर दोनों 100 प्रतिशत तक पहुंची।
(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)