Xi Chinfing

शी चिनफिंग ने सिछुआन के क्रांतिकारी विकलांग सैनिक विश्राम गृह को जवाबी पत्र लिखा

चीनी जन स्वयंसेवक सेना के कोरिया में अमेरिकी आक्रमण विरोधी युद्ध में भाग लेने की 70वीं जयंती पर चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव, राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने सिछुआन प्रांत के क्रांतिकारी विकलांग सैनिक विश्राम गृह को जवाबी पत्र लिखा और उन्हें अभिवादन दिया। 

अपने पत्र में शी ने कहा कि कोरिया के उसी युद्ध में चीनी स्वयंसेवक सेना ने देशभक्ति और क्रांतिकारी वीरता की भावना से देश की रक्षा के लिए अद्भुत योगदान पेश किया था। जिसे पार्टी और जनता कभी नहीं भूलेगी। विभिन्न युग में चीनी राष्ट्र के लगातार वीर पैदा हुए। नये युग में भी नये वीर पैदा होंगे। पूरी पार्टी और पूरे समाज में वीरों का सम्मान करने और इन से सीखने का माहौल तैयार किया जाना चाहिये और क्रांतिकारी वीरता के मुताबिक राष्ट्र के पुनरुत्थान के लिए शक्तियां एकत्र की जानी चाहिये। 

सिछुआन प्रांत के क्रांतिकारी विकलांग सैनिक विश्राम गृह की स्थापना वर्ष 1951 में हुई थी जिसमें क्रमशः 2800 से अधिक विकलांग सैनिकों का रखरखाव किया गया। उनमें 2200 विकलांग सैनिकों ने कोरिया में अमेरिकी आक्रमण विरोधी युद्ध में भाग लिया था। हाल ही में इस विश्राम गृह के बुजुर्ग सैनिकों ने महासचिव शी को एक पत्र लिखकर अपने जीवन की जानकारियों और राष्ट्र के पुनरुत्थान के लिए काम करने के अपने दृढ़ संकल्प से अवगत कराया। 

( साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग )