US Election

अमेरिकी चुनाव: बाइडेन बने डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार, ट्रम्प से होगा मुकाबला

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से जो बाइडेन आधिकारिक प्रत्याशी होंगे। पार्टी के डिजिटल सम्मेलन में उनके नाम पर मोहर लगाई गई। अब उनका मुकाबला तीन नवंबर को होने वाले चुनाव में मौजूदा राष्ट्रपति और रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रम्प से होगा। बाइडेन (77) जनवरी 2009 से जनवरी 2017 तक अमेरिका के उप राष्ट्रपति रह चुके हैं और बृहस्पतिवार को वह अपना स्वीकृति भाषण देंगे। डेलावर से सीनेट सदस्य बाइडेन ने ट्वीट किया, ‘‘अमेरिकी राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवारी को स्वीकार करना मेरे जीवन में सबसे सम्मान की बात है।’’ बाइडेन की पत्नी जिल बाइडेन ने कहा, ‘‘हमने दिखाया कि इस देश का दिल अब भी दया और हिम्मत के साथ धड़कता है।’’ डेलावर के ब्रांडीवाइन हाईस्कूल की एक कक्षा से भाषण देते हुए उन्होंने कहा, ‘‘हमें देश के लिए योग्य नेतृत्व की जरूरत है, जो आपके लिए योग्य हो। जिल इसी स्कूल में 1990 के दशक में अंग्रेजी भाषा की शिक्षिका थीं। कोरोना वायरस की वजह से पहली बार आयोजित डेमोक्रेटिक पार्टी के डिजिटल सम्मेलन में देश भर के पार्टी प्रतिनिधियों ने मंगलवार को बाइडेन को राष्ट्रपति पद के लिए पार्टी का प्रत्याशी नामित किया। बता दें कि इस महामारी में 1,70,000 से अधिक अमेरिकियों की मौत हो चुकी है। 

पार्टी के 50 राज्यों के प्रतिनिधियों की उपस्थिति दर्ज किए जाने के बाद बाइडेन की उम्मीदवारी पर मोहर लगी और डेमोक्रेटिक पार्टी के कम र्चिचत नेताओं ने कहा कि बाइडेन दोहरी चुनौती महामारी और आर्थिक अनिश्चितता के दौर में देश का नेतृत्व करने को तैयार हैं। उल्लेखनीय है कि ओबामा प्रशासन के आठ वर्ष के कार्यक्रम में बाइडेन ने भारत के साथ हुए असैन्य परमाणु समझौते को कांग्रेस की मंजूरी दिलाने में भी अहम भूमिका निभाई थी। उन्होंने भारतीय मूल की सीनेटर (अमेरिकी संसद के उच्च सदन सीनेट की सदस्य) कमला हैरिस को उपराष्ट्रपति उम्मीदवार नामित कर इतिहास रच दिया है। हैरिस ने ट्वीट किया, ‘‘शानदार रोल कॉल, जिसने हमारे देश के हृदय और आत्मा को दिखाया के बाद अब आधिकारिक मुबारक, जो बाइडेन।’’   

हैरिस (55) बुधवार रात को सम्मेलन को संबोधित करेंगी। गौरतलब है कि रियल क्लीयर पॉलिटिक्टस के सर्वेक्षणों के औसत के मुताबिक राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प पर बाइडेन को पूरे देश में 7.7 प्रतिशत की बढ़त हासिल है। हालांकि, जून के सर्वेक्षणों में मिली 10.2 प्रतिशत की बढ़त से यह कम है। उधर, ट्रम्प (74) को रिपब्लिकन पार्टी अगले हफ्ते होने जा रहे डिजिटल सम्मेलन में अपना आधिकारिक प्रत्याशी नामित करेगी। डेमोक्रेटिक पार्टी के सदस्य और अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन और जिम्मी कार्टर, पूर्व विदेश मंत्री एवं रपिब्लकन कॉलिन पॉवेल ने बाइडेन की उम्मीदवारी का समर्थन किया। 

क्लिंटन ने डिजिटल सम्मेलन में कहा कि बाइडेन ने पहले अमेरिका को मंदी से बाहर लाने में मदद की थी और एक बार फिर वह यह करेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘जो अमेरिका को दोबारा निर्मित करने को लेकर प्रतिबद्ध हैं।’’ क्लिंटन ने पांच मिनट के संदेश में कहा, ‘‘डोनाल्ड ट्रम्प कहते हैं कि हम विश्व का नेतृत्व कर रहे हैं। खैर हम दुनिया के सबसे बड़े औद्योगिकीकरण वाली एकमात्र अर्थव्यवस्था हैं और हमारी बेरोजगारी दर तिगुनी है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘आज के वक्त में ओवल आफिस (अमेरिकी राष्ट्रपति का कार्यालय) को कमान केंद्र होना चाहिए न कि उथल-पुथल पैदा करने वाला। वहां अभी केवल अफरातफरी है।’’ कार्टर ने कहा कि बाइडेन अमेरिकी इतिहास में इस समय सही व्यक्ति हैं गौरवान्वित होंगे।