Zanetti Train, missing inside tunnel, ghost train

106 यात्रियों से भरी ट्रेन सुरंग के अंदर जाकर हो गई थी गायब, आज तक नहीं मिला सुराग

दुनिया में ऐसे बहुत से रहस्य हैं, जिनसे आज तक पर्दा नहीं उठ सका है। आज हम भी आपको एक ऐसे रहस्य के बारे में बताने जा रहें हैं, जिसको जानकर हर कोई हैरान रह जाता है। जी हां, यह घटना है एक ऐसी ट्रेन की जो अचानक ही चलते-चलते गायब हो गई थी और आज तक इस ट्रेन का कोई सुराग नहीं मिला है। इस ट्रेन को लोग घोस्ट ट्रेन कहते हैं।

Zanetti Train that Lost in Tunnel in Italy and Never found again - InfoBush

1911 में घटी यह घटना
यह हैरान कर देने वाली बात है जून 1911 की। उसी साल जून में एक इटालियन रेलवे कंपनी जेनेटी ने अपनी ट्रेन के नए मॉडल के लिए एक फ्री राइड देने का एलान किया। इसके लिए 100 यात्रियों समेत 6 रेलवे कर्मचारी थे। ट्रेन में खाने-पीने का अच्छा बंदोबस्त था और यात्री आराम से गंतव्य तक पहुंचने का इंतजार कर रहे थे। इसी दौरान एक सुरंग में पहुंचते के बाद ट्रेन गायब हो गई। उसके बारे में काफी सारी खोजबीन हुई लेकिन ट्रेन का कोई पता नहीं चला।

A Tale of Time Travel on Ghost Train

सिर्फ 2 लोग ही बचा पाए जान
बताया जाता है कि इस घटना के बाद पुलिस के पास 2 लोग पहुंचे। ये दोनों भी उस ट्रेन में बैठे हुए थे लेकिन जब रेल सुरंग के पास आई तो उनको कुछ अजीब सा महसूस हुआ और टनल के आसपास धुआं दिखाई पड़ा। इस धुएं को देखकर ये दोनों यात्री रेल से कूद गए थे, इसलिए ये बच गए।

The Train - Ghost. Mysterious Disappearing of a Train in a Tunnel in Italy.  — Steemit

भूतकाल में चली गई थी ट्रेन
इस रहस्यमय घटना के बारे में कहा जाता है कि यह ट्रेन अपने समय से 71 साल पीछे यानी कि भूतकाल में चली गई थी। सच क्या है आज तक कोई जान नहीं पाया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह ट्रेन सन् 1840 में मेक्सिको में पहुंच गई थी। मेक्सिको की एक डॉक्टर ने दावा किया था कि वो जिस अस्पताल में काम करती है, वहां रहस्यमय तरीके से 104 लोगों को भर्ती कराया गया था। लेकिन वो सारे के सारे पागल हो गए थे। हालांकि वो इतना जरूर बता रहे थे कि वो ट्रेन से यहां तक आए हैं। लेकिन सबसे हैरानी की बात तो ये थी कि उस समय कोई भी ऐसी ट्रेन नहीं बनी थी, जो रोम से सीधे मेक्सिको तक जाए। हैरान करने वाली एक बात और थी कि इन लोगों के मेक्सिको आने का कोई रिकॉर्ड भी मौजूद नहीं था।