corona virus

चीन में कोरोना वायरस के न्यूक्लिक एसिड टेस्ट की बड़ी क्षमता

चीनी राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने हाल में कहा कि चीन के स्वास्थ्य संगठनों ने कोरोना वायरस के 9 करोड़ 4 लाख से अधिक न्यूक्लिक एसिड टेस्ट पूरा कर दिए हैं। पिछले मार्च में चीन में हर दिन 12.6 लाख लोगों का टेस्ट किया जा सकता था, अब यह संख्या 37.8 लाख तक पहुंची है, जो 200 प्रतिशत गुना अधिक है। इस संख्या पर दुनिया का ध्यान आकर्षित हुआ है।

अमेरिका के सीएनएन ने इस सूचना की रिपोर्ट की और ब्लूमबर्ग के संवाददाता डेविड इंगल्स ने बताया कि यह संख्या चौंकाने वाली है। उधर जापान के जिजी प्रेस ने कहा कि न्यूक्लिक एसिड टेस्ट करने में चीन की क्षमता जापान की 130 गुना है।
चीन की राजधानी पेइचिंग में 11 जून से कोविड-19 के नए मामले क्रमशः सामने आए। पेइचिंग नगरपालिका ने शीघ्र ही न्यूक्लिक एसिड टेस्ट की क्षमता उन्नत की। 20 जून तक हर दिन 2.3 लाख टेस्ट पूरे हो सकते हैं। हाल में सीएनएन समेत 15 विदेशी मीडिया संस्थाओं के संवाददाताओं ने मध्य पेइचिंग के एक टेस्ट स्टेशन में रिपोर्टिंग की।

सीएनएन के संवाददाता डेविड कलेवर ने कहा कि टेस्ट स्टेशन में अलग अलग क्षेत्र विभाजित हैं, जैसा कि इंतजार क्षेत्र, टेस्ट क्षेत्र, आपात क्षेत्र और आराम क्षेत्र आदि। हर क्षेत्र में एक मीटर की दूरी पर निशान लगा हुआ है। चिकित्सक सुबह 9 बजे से शाम 10 बजे तक नमूने लेते हैं।

चीन में न्यूक्लिक एसिड टेस्ट की संख्या जारी होने के बाद कुछ अमेरिकी नेटिजनों ने इससे राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की हंसी उड़ाई। अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने इससे पहले ट्वीट किया था कि अमेरिका ने 2.5 करोड़ लोगों का न्यूक्लिक एसिड टेस्ट किया है, जो अन्य देशों से कहीं ज्यादा है। नेटिजनों ने ट्रंप के ट्वीट के नीचे सीधे से कहा कि चीन ने 9 करोड़ से अधिक लोगों का टेस्ट पूरा किया, यह संख्या अमेरिका की 3 गुना है। क्या अमेरिका दुनिया का नंबर एक है?
(साभार---चाइना मीडिया ग्रुप ,पेइचिंग)