farmer protest

किसान आंदोलन को लेकर आज का दिन अहम, SC सुनाएगा फैसला

नई दिल्लीः किसान आंदोलन को लेकर आज का दिन काफी अहम है। दरअसल आज सुप्रीम कोर्ट कृषि कानून, आंदोलन से जुड़ी याचिकाओं पर अपना फैसला सुनाएगा। न्यायालय ने कृषि कानूनों पर रोक के संकेत दिए हैं। मुख्य न्यायाधीश शरद अरविंद बोबडे, न्यायमूर्ति ए एस बोपन्ना और न्यायमूर्ति वी रामासुब्रमण्यम की खंडपीठ आज आदेश सुनाएगी।

एंड्रायड पर Dainik Savera App डाउनलॉड करें

इस बीच केंद्र सरकार की ओर से देर शाम एक प्रारम्भिक हलफनामा दायर किया गया है, जिसमें कहा गया है कि कृषि कानूनों का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों की ओर से ऐसी अभिव्यक्ति की जा रही है कि संसद से विधेयक पारित होने से पहले केंद्र सरकार ने ये कानून बनाने के लिए किसी समिति से सम्पर्क नहीं किया था। कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय के सचिव संजय अग्रवाल की ओर से 45 पन्नों का हलफनामा दायर किया गया है।

Iphone पर  Dainik Savera App डाउनलॉड करें

इससे पहले न्यायालय ने केंद्र सरकार और किसानों के बीच बातचीत में प्रगति न होने पर सोमवार को गहरी नाराजगी जताते हुए केंद्र से पूछा कि क्यों न तीनों कानूनों पर रोक लगा दी जाए? खंडपीठ ने सुनवाई के दौरान तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा कि क्यों न तीनों कानूनों पर उस वक्त तक रोक लगा दी जाए, जब तक न्यायालय द्वारा गठित समिति इस मामले पर विचार न कर ले और अपनी रिपोर्ट न सौंप दे।

Loading ...