ISL 7

ISL-7: Bengaluru FC के खिलाफ जीत की पटरी पर लौटना चाहेगी चेन्नइयन एफसी

गोवा, पूर्व चैम्पियन चेन्नइयन एफसी शुक्रवार को बोम्बोलिम के जीएमसी स्टेडियम में बेंगलुरु एफसी के खिलाफ होने वाले मुकाबले को जीतकर हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन में एक बार फिर से जीत की पटरी पर लौटना चाहेगी। सीजन के अपने पहले मैच में जमशेदपुर एफसी के खिलाफ 2-1 की जीत दर्ज करने के बाद कोच कसाबा लाजलो की टीम चेन्नइयन को केरला ब्लास्टर्स के खिलाफ गोल रहित ड्रॉ खेलकर अंक बांटना पड़ा था। 

जहां एक तरफ बेंगलुरु की टीम इस सीजन में लगातार 2 ड्रॉ खेलकर अपनी पहली जीत की तलाश में है, तो वहीं चेन्नइयन के पास इस मैच को जीतकर तीन अंक लेने का मौका होगा। लाजलो ने भले हाल ही में ही चेन्नइयन के साथ अपने कार्यकाल की शुरुआत की हो, लेकिन इस मैच ने अपना महत्व नहीं खोया है। लाजलो ने कहा, ‘‘यह एक स्पेशल मैच है और हमारे लिए यह एक डर्बी की तरह है। इस मैच को जीतने के लिए हम हरसंभव कोशिश करेंगे, क्योंकि अगर हम तीन अंक हासिल करते हैं तो तालिका में हम अपनी स्थिति मजबूत कर सकते हैं।’’ चेन्नइयन की डिफेंस ने लीग के इतिहास में इस बार अब तक शानदार शुरुआत की है और उसने अपने पहले दो मैचों से अब तक केवल एक ही गोल खाया है। 
दूसरी तरफ, बेंगलुरु के कोच कार्लेस कुआड्रार्ट के लिए कई सारी समस्याएं हैं। उनकी टीम आक्रमण करने के लिए संघर्ष कर रही है। बेंगलुरु ने अपने पिछले दो मैचों में केवल 12 शॉट लिए हैं और उसमें से वह तीन ही शॉट को टारगेट पर लिया है। उनके तीन मुख्य खिलाड़ी सुनील छेत्री, क्लाइटन सिल्वा और क्रिस्टियन ओप्सेथ अब तक आक्रमण करने में विफल रहे हैं। 

कुआड्रार्ट ने कहा, ‘‘डिफेंस में टीम काफी निरंतरता दिखा रही है। मुङो लगता है कि हमारे पास गोवा के खिलाफ मैच में एक पल था जहां हमें थोड़ा नुकसान हुआ। यहीं पर दूसरी टीमों ने गोल किया। हमने अन्य टीमों के आक्रमण को नियंत्रित किया और हैदराबाद के खिलाफ भी यही था। दोनों मैचों में विपक्षी टीम मौके नहीं बना रही थी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम सब जानते हैं कि हमें कहां सुधार करना है और हम इस पर काम कर रहे हैं।’’

Loading ...