China

संयुक्त राष्ट्र 2030 सतत विकास कार्यक्रम के कार्यान्वयन में सक्रिय योगदान देता है चीन

चीनी राज्य परिषद के न्यूज कार्यालय ने हाल ही में "नये युग में चीन का अंतर्राष्ट्रीय विकास सहयोग" शीर्षक श्वेत पत्र जारी किया। इसमें कहा गया है कि चीन अन्य विकासशील देशों को गरीबी उन्मूलन, कृषि विकास सुधारने, शैक्षणिक समानता बढ़ाने, बुनियादी सुविधाओं को सुधारने और औद्योगीकरण की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने में समर्थन देते हुए संयुक्त राष्ट्र 2030 सतत विकास कार्यक्रम के कार्यान्वयन में सक्रिय रूप से योगदान देता है।

संयुक्त राष्ट्र 2030 सतत विकास कार्यक्रम 25 सितंबर 2015 को संयुक्त राष्ट्र विकास शिखर सम्मेलन में पारित किया गया। इस दस्तावेज़ ने अगले 15 वर्षों में दुनिया भर के देशों के विकास और सहयोग के लिए मार्गदर्शन किया। इस कार्यक्रम में 17 सतत विकास लक्ष्य और 169 संबंधित ठोस लक्ष्य शामिल हैं।

"नये युग में चीन का अंतर्राष्ट्रीय विकास सहयोग" शीर्षक श्वेत पत्र से पता चलता है कि चीन लाओस, म्यांमार, कंबोडिया समेत अन्य देशों में गरीबी उन्मूलन वाली परियोजना लागू करने, एशियाई और अफ्रीकी देशों में कृषि प्रौद्योगिकी विशेषज्ञ दलों को भेजने, नेपाल, मोज़ाम्बिक, नामीबिया आदि देशों में स्कूल बनाने, क्यूबा, ​​किर्गिस्तान आदि देशों में पावर ट्रांसमिशन व वितरण नेटवर्क परियोजनाओं का निर्माण करने के जरिए लगातार संयुक्त राष्ट्र 2030 सतत विकास कार्यक्रम के कार्यान्वयन में योगदान करता है। 

श्वेत पत्र में कहा गया है कि चीन नागरिकों के उन्मुख और जन-जीवन पर ध्यान केंद्रित करता रहेगा और विकासशील देशों के साथ वैश्विक चुनौतियों का सामना करेगा। चीनी संयुक्त राष्ट्र संघ के पूर्व उपाध्यक्ष चांग श्याओआन का मानना ​​है कि चीन अन्य विकासशील देशों के साथ वैश्विक चुनौतियों का मुकाबला करता है, जो न केवल चीन के स्वयं के विकास लक्ष्य और संयुक्त राष्ट्र 2030 सतत विकास कार्यक्रम के लक्ष्य से पैदा हुआ है, बल्कि एक प्रमुख देश के रूप में चीन की ज़िम्मेदारी से भी जुड़ा है।
(साभार-चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)


Loading ...