CM Ashok Gehlot, state budget announced, special Covid package

CM अशोक गहलोत ने पेश किया राज्य का बजट, स्पेशल कोविड पैकेज का ऐलान

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने राजस्थान विधानसभा में राज्य का बजट 2021-22 पेश किया। गहलोत सरकार ने भी इस बार पेपरलेस बजट पेश किया है। बजट में उन्होंने कई नई घोषणाएं की जिनमें राज्य के 25 जिला मुख्यालयों पर चरणबद्ध तरीके से नर्सिंग  महाविद्यालय स्थापित करना शामिल है। सीएम ने बजट में स्पेशल कोविड पैकेज का ऐलान किया, इसके तहत कोरोना से प्रभावित लोगों को आर्थिक मदद की जाएगी। इसके अलावा मुख्यमंंत्री अशोक गहलोत ने रोजगार के लिए 50 हजार रुपये तक का ब्याज मुक्त लोन देने की बात कही, राज्य में इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना शुरू की जाएगी।
   
उन्होंने कहा कि कोरोना ने अर्थव्यवस्था को झकझोर कर रख दिया इसलिए वर्ष के दौरान अधिक वित्तीय संसाधन जुटाने का प्रयास किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ‘राइट टु हेल्थ’ विधेयक लाएगी तथा अगले साल 3,500 करोड़ रुपये की लागत से सार्वभौमिक स्वास्थ्य सुविधा (यूनिवर्सल हेल्थ केयर) लागू करेंगे जिसमें हर परिवार को पांच लाख रुपये तक का स्वास्थ्य बीमा कवर उपलब्ध हो सकेगा। गहलोत के पास वित्त विभाग भी है। राज्य सरकार का यह तीसरा बजट है।

सीएम ने ऐलान किया कि सरकार अगले साल से अलग कृषि बजट पेश करेगी। राज्य में अलग-अलग स्थानों पर मिनी फूडपार्क बनाए जाएंगे, इसके अलावा किसानों को आधुनिक सुविधा दी जाएगी। अगले तीन वर्षों में 1000 किसान सेवा केंद्रों को बनाया जाएगा। राज्य में खेती के लिए बिजली देने के लिए अलग से बिजली वितरण कंपनी बनाई जाएगी। बजट पेश करते समय राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत के कहा- बेरोजगारी भत्ता 1000 रुपये बढ़ाया जाएगा। मुख्यमंत्री युवा संबल योजना से करीब 2 लाख युवा लाभान्वित होंगे। राज्य सरकार की योजनाओं को आमजन तक पहुंचाने के लिए राजीव गांधी युवा कोर का गठन होगा। 2500 राजीव गांधी युवा मित्रों का चयन होगा।





Live TV

-->
Loading ...