Amit Shah Modi government took

ईमानदार करदाताओं को सशक्त करने के लिए मोदी सरकार ने कई ऐतिहासिक निर्णय लिए: अमित शाह

नई दिल्लीः केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बृहस्पतिवार को कहा कि नरेंद्र मोदी की सरकार ने ईमानदार करदाताओं को सशक्त और सम्मानित करने के लिए कई ऐतिहासिक निर्णय लिए हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पारदर्शी कराधान- ईमानदार का सम्मान मंच की शुरूआत किया जाना करदाताओं को उपहार है। कर व्यवस्था में सुधारों को आगे बढ़ाते हुए प्रधानमंत्री ने आज इस नई कर व्यवस्था का लोकार्पण किया और इसके साथ ही देशवासियों से स्वप्रेरणा से आगे आकर कर भुगतान का आह्वान किया।
ईमानदार करदाताओं को भारत के विकास और समृद्धि की रीढ़ करार देते हुए शाह ने ट्वीट कर कहा, ‘इनको सशक्त बनाने और उन्हें सम्मान देने के लिए मोदी सरकार ने कई ऐतिहासिक निर्णय लिए हैं।’ उन्होंने कहा कि यह मंच प्रधानमंत्री के ‘न्यूनतम सरकार, कारगर शासन’ के संकल्प की दिशा में एक और महत्वपूर्ण कदम है। शाह ने इस कर सुधार मंत्र को नये भारत के लिए एक महत्वपूर्ण कदम बताया और कहा, ‘पारदर्शी कराधान- ईमानदार का सम्मान’ प्लेटफॉर्म का लॉन्च प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा हमारे करदाताओं के लिए एक उपहार है। फेसलेस असेसमेंट, फेसलेस अपील और करदाता चार्टर जैसे सुधारों से यह प्लेटफॉर्म हमारी कर प्रणाली को और सुदृढ़ करेगा।’

इससे पहले, प्रधानमंत्री ने कहा कि आज से शुरू हो रहीं नई व्यवस्थाएं, नई सुविधाएं न्यूनतम सरकार, कारगर शासन के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को मजबूत करती है। उन्होंने कहा, ‘ये देशवासियों के जीवन में सरकार के दखल को कम करने की दिशा में एक बड़ा कदम उठाया गया है। देश में चल रहा संरचनात्मक सुधारों का सिलसिला आज एक नए पड़ाव पर पहुंचा है। पारदर्शी कराधान- ईमानदार का सम्मान’ 21वीं सदी की कर प्रणाली की एक नई व्यवस्था है।’ 

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘इस मंच में करदाताओं और अधिकारियो के बीच बिना आमना सामना (फेसलेस) आकलन, अपील करने और करदाता चार्टर जैसे बड़े सुधारों को आगे बढ़ाया गया है। फेसलेस आकलन और करदाता चार्टर आज से लागू हो गये हैं जबकि फेसलेस अपील की सुविधा 25 दिसंबर यानी दीन दयाल उपाध्याय जी के जन्मदिन से देशभर में नागरिकों के लिए उपलब्ध हो जाएगी।’ ईमानदार करदाताओं का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि देश का ईमानदार करदाता राष्ट्रनिर्माण में बहुत बड़ी भूमिका निभाता है। जब देश के ईमानदार करदाता का जीवन आसान बनता है, वो आगे बढ़ता है, तो देश का भी विकास होता है।